मंगलवार, 14 जुलाई 2020

Jogiya mast malang hai-Pawan singh-Bhojpuri kanwar song-lyrics-mp3 download

Jogiya mast malang hai|Pawan singh|Bhojpuri kanwar song|

सावन महीने के Bhojpuri kanwar song की 
अपनी खास पेशकश  में हम आज आपके लिए लेकर आये है। Bhojpuri ke star performer और Singer Pawan singh का bhojpuri kanwar geet जिसके बोल हैं।Chadhe hai bashaa bayal pe ki jogiya mast malang hai,दोस्तो,ये गाना इतना सुंदर है कि एक बार सुनने के बाद आपका मन इसे बार बार सुनने को करेगा।तो लीजिये पेश है,Jogiya mast malang hai song lyrics और इस गाने की mp3 download फसिलिटी।

Aain18.com|jogiya mast malang hai|pawan singh|bhojpuri kanwar song|
|Jogiya mast malang hai|bhojpuri kanwar song|pawan singh|image source -google|

Download mp3 Jogiya mast malang


Maker's of Jogiya mast malang hai



Lyrics-Vinay bihari


Production-T-series

Lyrics of Jogiya mast malang hai

बोल बम,बोल बम,बोल बम
बलिफिनटिस तिवारी जी
अच्छा, हमें ये बताइये, कि,
सावन,भादो महीने में ही
महादेव को जल क्यों 
चढ़ाया जाता है
उसमें भी खासकर
सावन महीना,कोई और
महीना में क्यों नही 
चढ़ाया जाता है
हां, तो देखो,
ई, काम का बात पूछा है,
देखो बचा उन बम
सावन महीना में ही
समुद्र मंथन हुआ था
जिससे जहर और अमृत 
का घड़ा निकला था
अमृत पीना तो हर कोई
चाहता था
बाकी,जहर का घड़ा कोई
छू ना ही नही चाहता था
तब,शंकर भगवान सोचे
की अगर ई जहर का घड़ा
धरती पर पड़ा रह गया 
तो, सारा एनवायरनमेंटे
ख़राब हो जाएगा
एनवायरनमेंट समझते हो
हां, हां, वातावरण
तब त तुम पढ़ा लिखा
लगता है ए बम
ह आ अ अ
हां, त सुनो,तअ
जहर के प्रभाव से
पूरा धरती जहरीली
हो जाती
हवा पानी सब खराब
हो जाता
भक्तों, की रक्षा के लिये
भगवान जहर पी गए
जिसके चलते उनके कंठ
नीला पड़ गया
देखा है न उनका कंठ नीला
होता है
आ बाबा भोले नाथ के भीतर
के जहर को खत्म करने के लिए
भक्त लोग जल चढ़ाते हैं
ई घटना सावन माह में हुआ था
ए ही से कांवड़ सावन माह में ही 
उठाया जाता है
बुझा न बम
अच्छा जल चढ़ाने से क्या होता है
अरे,जल चढ़ाओगे तब न जानोगे
कांवड़ लेकर आना चाहिए था
तो कैमरा लेके घूमता है
भैरो बम कहीं का
का चाहिए जल चढ़ाओ
सब कुछ मिलेगा
हम रे भोले बाबा को
भिखारी मत समझो
आ हाथ में है,डमरू
तो मदारी मत समझो
म्यूजिक

न पजेरो,न फरारी
न पजेरो,न फरारी
न जहाज,रेलगाड़ी
न जहाज,रेलगाड़ी
ओ,न पजेरो,न फरारी
न जहाज,रेलगाड़ी
देखी,दुनिया जहान
सबे, दंग है,
चढ़े है,बसहा बैयल पे
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
म्यूजिक

न पापड़,न अदौरी,तिलौरी
न रोटी,न भात हे
खुआ,मलाई,माखन, मिश्री,
ई हो न शिव के सोहात हे
न पापड़,न अदौरी,तिलौरी
न रोटी,न भात हे
खुआ,मलाई,माखन, मिश्री,
ई हो न शिव के सोहात हे
लागल गांजा मअ बा जिया,
गांजा मअ बा जिया
खा ले धतूरा के बिया
धतूरा के बिया
लागल गांजा मअ बा जिया,
गांजा मअ बा जिया
खा ले धतूरा के बिया
धतूरा के बिया
इनके नाश्ता के चीज सुनअ
भंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
म्यूजिक

न तोसक, न तकिया,रजाई
न चादर,न साल हे
न कुर्ता,न धोती,गमछा,
देहि प बाघ के छाल हे
न तोसक, न तकिया,रजाई
न चादर,न साल हे
न कुर्ता,न धोती,गमछा,
देहि प बाघ के छाल हे
अंगे, भस्मी, भभूती
भस्मी, भभूती
बोले तीनो लोके तूती
तीनो लोके तूती
अंगे, भस्मी, भभूती
बोले तीनो लोके तूती
जटा बिचवे में,बैठी गंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
म्यूजिक

विनय,पवन,गुण गाए इनके
बाबा के घर कैलाश हे
तिरशूल,डमरू,चिलम,कमंडल
इहे,दौलत पास हे
हो,विनय,पवन,गुण गावे इनके
बाबा के घर कैलाश हे
तिरशूल,डमरू,चिलम,कमंडल
इहे,दौलत पास हे
बाकी,है,गे महादानी
है,ये महा दानी
फले में है सोना चानी
फले में है सोना चानी
बाकी,है,गे महादानी
फले में है सोना चानी
अलबेला मतवाला हर ढंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
चढ़े है,बसहा बैयल पे
कि, जोगिया मस्त मलंग है
समाप्त


Meaning of Jogiya mast malang hai


म्यूजिक कंपनी T series के बैनर तले इस कांवड़ गीत में बाबा भोलेनाथ की सादगी का वर्णन बखूबी किया गया है।इसकी शुरुआती लाइन न पजेरो न फरारी न जहाज रेलगाडी ,देखी दुनिया जहान सबे दंग है,में इस गीत का सार मिलता है।

म्यूजिक डायरेक्टर और गीत कार विनय बिहारी की ये कल्पना इस बात को  जाहिर करती है,की देखने में महादेव भले ही फ़क़ीर लगते हों,पर उनसे बड़ा दानी दूसरा कोई इस संसार में नही हैं।

जोगिया मस्त मलंग है,मतलब एक जोगी जिसे किसी बात की कोई परवाह नही है,जो अपना स्टेटस नही देखता,देखता है,तो दूसरों का कल्याण।जो स्वयं भले ही स्वयं सदा रहता हो,पर अपने भक्तों को सम्पूर्ण ऐश्वर्य प्रदान करता है।

ये गीत महादेव के अस्तित्व को सही मायनों में दुनिया के समक्ष रखती है।


Also see

Pawan Singh's evergreen kanwar song 
Bane bane ghumtaare gauri betauwa














6 टिप्‍पणियां:

  1. Very nice content, enjoyed reading, keep up the good work
    If you are looking for jobs the visit Jobseekers

    जवाब देंहटाएं
  2. In this blog I get a great post please also visit my blog I post a great content https://techkashif.com/gujarat-girls-whatsapp-group-links/

    जवाब देंहटाएं
  3. In this blog I get a great post please also visit my blog I post a great content https://techkashif.com/pune-girls-whatsapp-group-links/

    जवाब देंहटाएं
  4. In this blog I get a great post please also visit my blog I post a great content https://lyricsmintss.com/dil-toh-clean-johny-seth/

    जवाब देंहटाएं
  5. In this blog I get a great post please also visit my blog I post a great content https://techkashif.com/uttar-pradesh-girls-whatsapp-group-links/

    जवाब देंहटाएं

Please do not enter any spam link in the comment box