बुधवार, 29 अप्रैल 2020

अलविदा Irfan Khan,एक कलाकार के रूप में आप सदा किये जाओगे याद

Bollywood|Irfan Khan's memorable performance in world cinema|


इस आर्टिकल में हम बात करेंगे वर्ल्ड सिनेमा के उस उम्दा कलाकार को,जिसने अपने अभिनय से साबित कर दिया कि एक कलाकार की कोई सीमा नही होती।जी हां दोस्तों मैं बात कर रहा हूँ,अभिनेता इरफान खान की,जिनका आज मुंबई के कोकिला बेन हॉस्पिटल में,निधन हो गया।और कुछ घंटे पहले उनके पार्थिव शरीर को मुंबई के वर्सोवा कब्रिस्तान में सुपुर्द ए ख़ाक कर दिया गया।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मौज़ूदा लॉक डाउन की वजह से उनकी अंतिम यात्रा में उनके करीबी लगभग 20 लोग ही शिरकत कर सके।
(अलविदा इरफान खान इमेज सोर्स-गूगल)

प्रधानमंत्री मोदी सहित सभी बॉलीवुड एक्टर्स,डायरेक्टर्स ने दी श्रद्धांजलि


मीडिया में सुबह से आ रही लगातार खबरों के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी,अमित शाह,अमिताभ बच्चन,सुधीर मिश्रा,मधुर भंडारकर,अनुपम खेर,शाहरूख खान,सलमान खान,परिणीति चोपड़ा और कई अन्य लोगो ने ट्वीट के ज़रिए अपनी भावनाएं व्यक्त की।

स्क्रीन नेम-इरफान खान

रियल नेम-साहिब ज़ादे इरफान अली खान

जन्म-7 जनवरी 1967,जयपुर,राजस्थान, इंडिया

डेथ-29 अप्रैल 2020,मुंबई, इंडिया

कैसे बने अभिनेता


दोस्तों इरफान खान का जन्म 7 जनवरी 1967 में जयपुर में हुआ था।उनका पूरा नाम साहिबजादे इरफान अली खान था।इरफान को बचपन से ही फिल्मों में काम करने का बड़ा शौक था।इसलिए ,जब वो बड़े हुए थे नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा,दिल्ली से अभिनय की ट्रेनिंग ली।इसके बाद उन्होंने 90 के दशक के दूरदर्शन के धारावाहिक चंद्रकांता,भारत एक खोज,जय हनुमान,कहकशां जैसे कई धरावाहिक में काम किया और लोगो के जेहन में अपनी छाप छोड़ी।चंद्रकाता में उन्होंने बद्रीनाथ का रोल किय था।जहां मैंने बचपन में पहली बार उनका अभिनय देखा था।

बॉलीवुड में सलाम बॉम्बे से की शुरुआत


दोस्तों, इरफान ने पहली बार बॉलीवुड में साल 1988 में सलाम बोम्बे फ़िल्म में एक बेहद छोटे रोले से शुरुआत की थी।इसके बाद लगभग 13 साल की कड़ी मशक्त के बाद उन्हो साल 2001 में आई हॉलीवुड फिल्म द वारियर्स से विश्व सिनेमा में उन्हें पहचान मिली।इसके बाद उन्होंने हांसिल और मक़बूल जैसी बॉलीवुड फिल्मों में दमदार अभिनय से सभी का दिल जीत लिया।और साल 2005 में भट्ट कैम्प की फ़िल्म रोग में उनके अभिनय ने बॉलीवुड में उन्हें स्थापित कर दिया।

बॉलीवूड में किये कई यादगार रोल


इसके बाद तो इरफान ने बॉलीवुड में ऐसे रोल किए जो इतिहास बन गए।बॉलीवुड में उनकी फिल्म लाइफ इन के मेट्रो,पान सिंह तोमर,द लंच बॉक्स,पीकू,बिल्लू बारबार,साहिब बीवी और गैंगस्टरतलवार, हिंदी मीडियम और इस साल रिलीज हुई ,उनकी आखरी फ़िल्म अंग्रेजी मीडियम बॉक्स ऑफिस पर बेहतरीन प्रदर्शन किया।साल 2011 में आई पान सिंह तोमर में इन्होंने एक एथेलीट से डाकू बने पान सिंह तोमर के रोल को ऐसा जीवंत कर दिया,की इस फ़िल्म फ़िल्म के लिए उन्हें बेस्ट एक्टर का नेशनल अवार्ड दिया गया।इसके अलावा भारतीय सिनेमा में अपने अभिनय के लिए इरफान ने पदम श्री अवॉर्ड भी जीता।

इन हॉलीवुड फिल्मों से दुनिया भर में बनाई पहचान


दोस्तों,एक तरफ बॉलीवुड में इरफान ने जहां,सफलता के खंड गाड़े।वहीं हॉलीवुड में भी उन्होंने कई मशहूर प्रोजेक्ट में अपना अभिनय दिखाया।हॉलीवुड के लिए इरफान ने स्लमडॉग मिलेनियर, द वारियर्स, लाइफ ऑफ पाई,द अमेजिंग स्पाइडर मैन,इंफेरनो और जुरासिक वर्ल्ड जैसी,फिल्मों में काम किया।साल 2008 में हॉलीवुड की मशहूर फिल्म स्लमडॉग मिलेनियर में निभाए इंस्पेक्टर की भूमिका ने उन्हें इंटरनेशनल स्टार बना दिया।डैनी बॉयल की इस फ़िल्म ने उस साल 8 ऑस्कर अवार्ड जीते।जिसके चलते इसका हर क़िरदार वर्ल्ड फेमस हो गया।

दोस्तों ,इरफान खान और एक आम आदमी से सफल अभिनेता बनने की उनकी कहानी,अपने आप में काफी प्रेरणादायक है।इरफान ने अपने कर्मो के बदौलत अपनी तकदीर को बदला।और एक लंबे संघर्ष के बाद न सिर्फ भारतीय महाद्वीप,बल्कि पूरी दुनिया में अपनी पहचान बनाई।जिसके लिए फिल्मों के इतिहास में वो सदा याद किये जाएंगे।

Also see

What was the combination of rudraksh beads wearing by bollywood actor shammi Kapoor

Article Source-wikipedia,google

Drafted by-Sanjeev Jha






1 टिप्पणी:

Please do not enter any spam link in the comment box